हाले हैलट एवं उर्सला अस्पताल

Check out this too…………………..
See More On This Topic

  • अनाथ है उर्सला का आईसीयू

  • वायरस की चपेट में आए कानपुराइट्स

  • हैलटकांड के बाद हरकत में प्रशासन

  • मरीज को स्ट्रेचर समेत कूड़े में फेंका

  • सुपर कंप्यूटर बताएगा सही इलाज

  • पसीने से लथपथ डाक्टर इलाज को मजबूर

  • बुखार कर रहा दिमाग को बीमार (10/14/2016) - - कानपुर में फैले बुखार का खतरनाक असर पड़ रहा लोगों के दिमाग पर - मेडिकल कॉलेज में हुए सर्वे में खुलासा, किडनी पर भी डाल रहा प्रभाव
    बहुत अराजकता है हैलट अस्पताल में (9/6/2016) - कानपुर : हैलट अस्पताल का निरीक्षण करने सोमवार दोपहर आई केंद्रीय स्वास्थ्य राज्यमंत्री अनुप्रिया पटेल ने अव्यवस्था देखकर कहा कि बहुत अराजकता है यहां। इस दौरान मरीजों ने बाहर से दवाएं मंगवाने एवं जांच बाहर से कराने की शिकायत मंत्री से की। उनकी शिकायतें सुनकर मंत्री ने ईएमओ को बुलाकर सुधार के निर्देश दिए। केंद्रीय […]
    डेंगू व अन्य बुखार फैलने के साथ ही शहर में प्लेट्लेट्स को लेकर मारामारी (9/6/2016) - डेंगू व अन्य बुखार फैलने के साथ ही शहर में प्लेट्लेट्स को लेकर मारामारी शुरू हो गई है। सरकारी एवं निजी ब्लड बैंकों में प्लेटलेट्स की बढ़ी मांग का फायदा उठाते हुए बिचौलिये भी सक्रिय हो गए हैं जो मुंहमांगी दरों पर प्लेट्लेट्स मुहैया करा रहे हैं वहीं कई नर्सिग होम में निर्धारित मूल्य से तीन चार गुना अधिक पर प्लेटलेट्स मुहैया कराने का कर्मचारी ठेका ले रहे हैं।
    कानपुर: हैलट एवं उर्सला अस्पताल ..तो एक बेड पर होंगे दो मरीज (9/6/2016) - हैलट एवं उर्सला अस्पताल की ओपीडी में बुखार पीड़ितों की संख्या बढ़ती जा रही है। सबसे अधिक बुखार, मलेरिया, चिकनगुनिया एवं डेंगू के लक्षण वाले मरीज पहुंच रहे हैं। मेडिसिन वार्ड मरीजों से पट गए हैं। अस्पताल प्रबंधन चिंतित है कि इसी तरह मरीजों का दबाव बढ़ता गया तो एक बेड पर दो-दो मरीज भर्ती करने पड़ेंगे।
    कानपुर :शहर में चार लाख से अधिक मधुमेह पीड़ित (11/14/2016) - कानपुर : मधुमेह विश्व की सबसे बड़ी बीमारी बनकर लोगों को अपना शिकार बना रही है। विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार विश्व भर में 41.5 करोड़ मधुमेह रोगी है। 2040 तक यह संख्या 64.2 करोड़ तक पहुंच जाएगी। भारत में मधुमेह रोगियों की संख्या करीब सात करोड़ है। इससे दोगुने लोगों को शुरुआती मधुमेह का खतरा है। अनुमान के मुताबिक 2025 तक विश्व का हर पांचवां मधुमेह रोगी भारतीय होगा। 1शहर में तेजी से फैल रहा मधुमेह: मधुमेह विशेषज्ञ डॉ. नंदनी रस्तोगी और डॉ. बृज मोहन की अगुवाई में 2014-15 में 12 जिलों के 8000 लोगों का डोर टू डोर सर्वे कराया गया। शहरी इलाकों में 7.8 फीसद, जबकि ग्रामीण क्षेत्रों में 6.4 फीसद लोग मधुमेह के शिकार मिले।

    Advertisements

    Leave a Reply

    Fill in your details below or click an icon to log in:

    WordPress.com Logo

    You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

    Google+ photo

    You are commenting using your Google+ account. Log Out /  Change )

    Twitter picture

    You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

    Facebook photo

    You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

    w

    Connecting to %s